"> ");

ब्रेकिंग न्यूज : RBI ने रद्द किया इस बैंक का लाइसेंस, कई खाताधरकों के अटके पैसे, कहीं आपके भी तो नहीं.

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सोमवार को महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में स्थित वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक (Vasantdada Nagari Sahakari Bank) का लाइसेंस रद्द कर दिया है. आरबीआई ने कहा कि बैंक अपनी मौजूदा वित्तीय स्थिति के हिसाब से अभी के जमाकर्ताओं का पूरा पैसा वापस नहीं कर पाएगा. इसी कारण उसका लाइसेंस रद्द (License Cancelled) किया जा रहा है. केंद्रीय बैंक ने कहा कि सहकारी बैंक का लाइसेंस रद्द करने और लिक्विडेशन की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक के जमाकर्ताओं का पैसा लौटाने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी जायेगी. रिजर्व बैंक ने कहा कि ... Read moreब्रेकिंग न्यूज : RBI ने रद्द किया इस बैंक का लाइसेंस, कई खाताधरकों के अटके पैसे, कहीं आपके भी तो नहीं.
 
ब्रेकिंग न्यूज : RBI ने रद्द किया इस बैंक का लाइसेंस, कई खाताधरकों के अटके पैसे, कहीं आपके भी तो नहीं.

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सोमवार को महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में स्थित वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक (Vasantdada Nagari Sahakari Bank) का लाइसेंस रद्द कर दिया है. आरबीआई ने कहा कि बैंक अपनी मौजूदा वित्तीय स्थिति के हिसाब से अभी के जमाकर्ताओं का पूरा पैसा वापस नहीं कर पाएगा. इसी कारण उसका लाइसेंस रद्द (License Cancelled) किया जा रहा है. केंद्रीय बैंक ने कहा कि सहकारी बैंक का लाइसेंस रद्द करने और लिक्विडेशन की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक के जमाकर्ताओं का पैसा लौटाने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी जायेगी.

रिजर्व बैंक ने कहा कि सहकारी बैंक का लाइसेंस सोमवार को कारोबार समाप्त होने के बाद से रद्द माना जायेगा. इसके बाद सहकारी बैंक परिचालन नहीं कर सकेगा. जमाकर्ता लिक्विडेशन के बाद डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) से पांच लाख रुपये तक का जमा पाने के पात्र होंगे.

RBI cancels licence of Vasantdada Nagari Sahakari Bank

बता दें कि रिजर्व बैंक ने बैंक का लिक्विडेटर (Liquidator) नियुक्त करने का आदेश भी दिया था. बैंक का कहना है कि वसंतदादा नगरी सहकारी बैंक को चालू रखना जमाकर्ताओं के हित में नहीं है. मौजूदा स्थिति में बैंक अपने डिपॉजिटर्स को पूरा पैसा नहीं दे पाएगा. फिलहाल केंद्रीय बैंक ने इस बात को साफ कर दिया है कि लाइसेंस रद्द होने के बाद भी 99 फीसदी जमाकर्ताओं को उनकी पूंजी वापस मिल जाएगी.

RBI ने महाराष्‍ट्र के कराड में संकटग्रस्‍त ‘कराड जनता सहकारी बैंक’ का लाइसेंस रद्द कर दिया है. बता दें कि इससे पहले नवंबर 2017 से ही कराड जनता सहकारी बैंक पर रिजर्व बैंक ने कुछ पाबंदियां लगाई हुई थीं. आरबीआई ने कहा है कि लाइसेंस रद्द होने के बाद अब बैंक पूरी तरह से बंद हो जाएगा.

From around the web