यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण और 5 आसान उपाय – Urine Infection In Hindi

Urine Infection जिसको मूत्र पथ में संक्रमण कह जाता है।  ये सूक्ष्म जीवो से होने वाला संक्रमण है ये जीव इतने सूक्ष्म होते हैं कि उन्हें बिना किसी सूक्ष्मदर्शी के  सकता है।  ये एक आम समस्या है जो कि ज्यादातर औरतो को होती है आदमियों में ये कम होती है।  आमतौर पर ये बैक्टीरिया के कारण होती है बहुत ही कम और दुर्लभ प्रभावों में ही ये वायरस के द्वारा होते हैं।

Urine Infection in hindi

Urine Infection In Hindi – urine infection treatment gharelu ilaj upay nuskhe

यूरिन का संक्रमण मूत्र पथ में होता है और ये किसी भी पथ या मार्ग में हो सकता है।  वैसे मूत्र पथ में गुर्दा, अमाशय और मूत्र मार्ग शामिल है लेकिन यूरिन के संक्रमित होने पर प्रभाव किडनी पर ही पड़ता है।   जिस तरह जब कही पानी रुका या जमा होता है तो  उस पर बैक्टेरिया जमा होने लगते हैं ठीक उसी प्रकार पेशाब को भी देर तक रोकने से बक्टेरिया बहार न निकल कर अंदर ही रह जाते हैं और संक्रमण का कारण बनते हैं। पेशाब में होने वाले संक्रमण से सबसे ज्यादा खतरा किडनी को होता है जिससे किडनी का खराब होना तय होता है।

इसलिए इसका उपचार सही समय पर करवा लेना चाहिए।  मूत्र मार्ग के द्वारा ही और पेशाब के साथ शरीर के अपशिष्ट पदार्थ बहार निकलते हैं लेकिन यदि देर तक पेशाब को रोका जाये या किसी कारन वश न जा पाते हो तो पेशाब के रंग में परिवर्तन आ जाता है जो इंफेक्शन का कारण हो सकता है। अगर काफी देर बाद भी पेशाब  तो गुर्दे को संक्रमण  बन जाता है।

Urine Infection

यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण –

  • कुछ ऐसे लक्षण अगर  स्पष्ट हो तो तुरंत पेशाब को  चेक करवाए और रोग के होने की पुष्टि करें –
  • बुखार का आना  और ठण्ड भी लगे
  • अगर पेशाब में खून आने लगे
  • पेशाब के लिए बार बार जाना और पेशाब का रुक रुक कर होना
  • अगर पेशाब करने के समय दर्द हो तथा जलन होती हो
  • पेशाब का रंग गहरा और बदबू भी आती हो
  • बार बार पेशाब के लिए जाना महसूस हो

हालांकि बहुत सी दवाइया एलोपैथी में है जिसके द्वारा पेशाब के संक्रमण को रोका और थामा जाता है लेकिन हम यहाँ कुछ घरेलू और प्रभावी उपाय बताने जा रहे हैं जिसके द्वारा इस  संक्रमण  से बचा जा  सकता है।

पानी को ज्यादा मात्रा में पियें-

पेशाब में यदि संक्रमण है तो पानी को ज्यादा पीना चाहिए ताकि मूत्र के द्वारा शरीर के बैक्टेरिया बाहर  निकल  जाये।  कम से कम एक दिन में १० से १२ गिलास पानी अवश्य पीना चाहिए और पेशाब भी जाना चाहिए।  मूत्र को रोकने से ही सक्रमण का खतरा बन जाता है

विटामिन ‘C ‘ को भरपूर मात्रा में लें –

विटामिन C से भरे पदार्थ लेने से यह मूत्र के  बैक्टेरिया को रोकने में मदद करते हैं और पेशाब की जलन को भी समाप्त करती है इसलिए अधिक मात्रा में ऐसे फलों का सेवन करना चाहिए जिसमे विटामिन c बहरपुर मात्रा में हो जैसे – संतरा, आवला आदि। विटामिन C से जुड़े फलो में साइट्रिक एसिड होता है जो पेशाब में उपस्थित  बैक्टेरिया को खत्म करने के लिए कारगर होता है।

सेब का सिरका

सेब का सिरका, जिसे अंग्रेजी में एप्पल साइडर विनेगर कहते है, एक महत्वपूर्ण दवा के रूप में काम करता है। सेब के सिरके को २चम्मच और शहद १ चम्मच लेकर इसे हलके गुनगुने पानी में मिलकर पिए। इससे  बैक्टेरिया खत्म हो जाते है और मूत्र मार्ग से मूत्र द्वारा निकल जाते हैं।

हरी छोटी इलायची

 इलायची भी एक मुख्य चीज है जो हमारे घरो में होती हैऔर ये पेशाब में होने वाले जलन और संक्रमण को समाप्त करती है। इसके लिए २ से ४ हरी इलायची को सौंठ के साथ पीस ले और अनार के जूस के साथ  थोड़ा  सेंधा नमक डाल कर फिर पी लें ।  ये घरेलु दवा एक से दो  दिन में ही असर  कर जाती है।

बेकिंग सोडा –

बेकिंग सोडा को आधा चम्मच लेकर पानी में मिलाकर पीने से भी पेशाब के बैक्टेरिया पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाते है।

लस्सी या छांछ

ये एक बहुत ही अच्छा उपाय है इसके सेवन से बहुत ही जल्दी जलन और संक्रमण से छुटकारा मिलता है और इसके साथ प्याज़  का सेवन और भी कारगर उपाय है।

यूरिन के इन्फेक्शन से बचने के कुछ उपाय

  • कभी भी पेशाब को देर तक  रोकना नहीं चाहिए क्युकि देर तक रोकने से ही बैक्टेरिया बाहर नहीं निकल पाते और संक्रमण का खतरा बन जाता है।
  • पानी को खूब पिए और पेशाब भी जाये।
  • सेक्स करने के बाद गुप्त अंग को अच्छी तरह से धोये और पेशाब अवश्य जाये।
  • अपने गुप्त अंगो की सफाई का खास ध्यान रखें, केमिकल युक्त साबुन का प्रयोग न करे बल्कि मेडिकेटिड सोप और क्रीम का उपयोग करें।
  • हमेशा साफ जगह पर ही पेशाब जाएँ।
  • बाहरी शौचालय का प्रयोग करने से पहले फ्लश करे और कुछ देर बाद ही पेशाब जाएँ।
  • अपने नहाने की जगह को हमेशा साफ़ रखे और समय समय पर विशेष रूप से कीटाणु नाशक दवा का उपयोग करें।

दोस्तों उम्मीद करते है की आपको Urine Infection In Hindi और urine infection treatment gharelu ilaj upay nuskhe से जुड़ी हुई जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर आपके पास  Urine Infection In Hindi और urine infection treatment gharelu ilaj upay nuskhe से जुड़ी हुई और कोई जानकारी है तो आप हमे Comment में जरुर बताएं।

Leave a Reply