अगर आपकी भी अंगुलियां पानी में भीगने से ऐसी हो जाती है तो इस खबर को जरुर पढ़ ले

अक्सर आपने देखा होगा कि बहुत देर तक कपड़े धोने से या हाथ बहुत देर तक पानी में रहने से अंगुलियां सिकुड़ जाती हैं। ऐसा क्यों होता है ? क्या इसके बारे में अपने कभी सोचा है। हमारे शरीर की बनावट को समझ पाना बहुत ही मुश्किल है। और हमें शरीर की बहुत सी क्रियाओं का पता भी नहीं चल पाता है। पानी में बहुत देर तक हाथ रखने से अंगुलियों में सिकुड़न होना क्या कोई गंभीर बीमारी है ? आइए विस्तार से जानते हैं। अगर आपकी अंगुलियां भी पानी में भीगने से ऐसी हो जाती है तो यह खबर तुरंत पढ़ें, जरूरी बात है।

पानी में रखने पर अंगुलियों के सिकुड़ने का कारण

Loading...

पुराने समय में मान्यता थी कि हाथ को बहुत देर तक पानी में रखने से हाथ के अंदर का पानी निकल जाता है। जिससे अंगुलियों में सिकुड़न आ जाती है। लेकिन रिसर्च के अनुसार यह बिल्कुल गलत है। हमारे शरीर की अधिकतर क्रियाओं पर नर्वस सिस्टम का नियंत्रण होता है। और शरीर के भीतर तंत्रिका तंत्र स्वतंत्र रूप से काम करता है।

अंगुलियों के बहुत देर तक पानी में रहने से अंगुलियों के अंदर की नसें सिकुड़ जाती है। जिसकी वजह से अंगुलियां भी सिकुड़ जाती है। और अंगुलियों में सलवटे पैदा हो जाती हैं। यह क्रिया तंत्रिका तंत्र द्वारा नियंत्रित होती है। इसके अलावा हमारा सांस लेना, धड़कन और पसीना आना जैसी क्रियाएं भी तंत्रिका तंत्र द्वारा नियंत्रित होती है।

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में जरुर बताए. और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे. ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.