अगर इन 3 आदतों को सुधार ले तो शरीर बन जाएगा फौलाद

फिटनेस आज सभी के जिंदगी में बहुत मायने रखता है। आज कल की भाग दौड़ वाली ज़िन्दगी में व्ययाम और खानपान पर कम ध्यान रहता है। यही चलते चलते खतरनाक बीमारियो का कारण बनता है। दिन पर दिन लोग अपने शारीर को कमज़ोर किये जा रहे है। शरीर की कमजोरी में हर आदमी का हात होता है। पुराने जमाने में लोग इन सारी चीजो पर ध्यान नही देते थे बजाय खानपान और व्यायाम के। तो दोस्तों चलिय जानते है कि आप व्यायाम के बिना भी फिट कैसे रह सकते है-

कमजोरी का सबसे पहला कारन पैसे को मना जाता है। लोग पसे कमाने के चाक्कार में टाइम पर खाना नही खाते, हमेशा टेंशन रहती है और लोग ज्यादा सोचने से मरीज बन जाते है। इसी लाइफस्टाइल के कारण लोग अपने शरीर का मुख्य ख्याल नही कर पाते है और कमजोरी का शिकार होते है।

Loading...

ऐसे में इंसान की हड्डियां सबसे पहले कमजोर होती है। चमड़े में पीलापन और मांसपेशिया लूज़ होने लगती है। उसके लिए आपको गयम जाने की जरूरत नही बल्कि ये टिप्स फॉलो करें-

रात को काफी देर तक जागना

रात में देर से सोने के बहुत नुकसान है। अगर आप देर से सोयेंगे तो देर से उठेंगे जो की आलस्य का सबसे बड़ा कारण है। ऐसा करने से हर वक़्त नींद आएगी और शरीर भरी काम करने में अशक्षम हो जाता है। अगर ऐसे ही चलता रहेगा तो कुछ दिनों में आप ब्लडप्रेशर और डाबेटीज़ के मरीज बन जाएंगे। अगर ऐसा होगया तो आप व्ययाम करने के भी लायक नही रहेंगे।

सही समय पर भोजन का सेवन न करना

अगर आप भी बेटाइम से खाना खाते है तो आप जल्दी इस आदत को सुधार लीजिये। अधिकतर समय हम लोग टाइम पर खाना नही खाते। ऐसा करने से हमारे शरीर के कार्यप्रणाली में काफी बाधा उत्त्पन्न होती है जिसकी वजह से खाना सही से पच नही पता है और बदहज़मी होने के कारण ऑक्सिजेनेटेड ब्लड नही मिल पता है।

जरूरत से ज्यादा चिंता करना

टेंशन फ्री रहना एक सेहतमंद आदमी की पहचान है। टेंशन में रहने से शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। ये दिमाग को थका देता है और ऐसे समय में खाना खाना भी अच्छा नही लगता। टेंशन में रहने का सबसे बड़ा खतरा ये है कि ये आपके शरीर के ग्रोथ को रोक देता है जो की काफी नुकसानदेय है। इससे दिमाग भी कमजोर होता है।