अगर पानी में भीगने के बाद आपकी उंगलियां भी ऐसी हो जाती हैं, तो इस खबर को पढ़ना ना भूले

कई बार आपने देखा होगा कि पानी में ज्यादा देर तक रहने के कारण उंगलियां झुर्रीदार हो जाती हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि उंगली सिकुड़ने के क्या कारण हैं? हालांकि, कुछ समय बाद, उंगलियों की सिकुड़न गायब हो जाती है। और उंगलियां वापस सामान्य में आ जाती हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में। अगर पानी में भीगने के बाद आपकी उंगलियां भी इस तरह की हो जाती हैं, तो तुरंत इस खबर को पढ़ें।

पानी में भिगोने से उंगलियों का सिकुड़ना सामान्य है। घबराने की कोई बात नहीं है। यह हमारे शरीर की सुरक्षा के लिए होता है। अब आप सोच रहे होंगे कि अंगुलियों के सिकुड़ने से शरीर कैसे सुरक्षित रहता है? तो चलिए हम आपको इसके बारे में बताते हैं कि हमारा शरीर बहुत चालाक है। यह आसानी से किसी भी स्थिति में खुद को डाल देता है। पानी में हाथ रखने से हाथों की पकड़ ढीली हो जाती है। इसलिए उंगलियां सिकुड़ जाती हैं। ताकि हम पानी में भी आसानी से कुछ भी पकड़ सकें।

हमारा स्वायत्त तंत्रिका तंत्र पानी में भिगोने से उंगलियों के सिकुड़ने का कारण है। और पानी में भिगोने से उंगलियों का मांस वासोकॉन्स्ट्रिक्शन के कारण सिकुड़ जाता है। और हाथों की पकड़ भी पानी में अच्छी हो जाती है।

बहुत से लोग उंगलियों के सिकुड़ने से भी डरते हैं। लेकिन डरने की कोई बात नहीं है। यह हमारे अच्छे स्वास्थ्य का संकेत है। और एक संकेत है कि हमारा स्वायत्त तंत्रिका तंत्र सही ढंग से काम कर रहा है।

अगर पानी में भीगने के बाद भी आपकी उंगलियां सिकुड़ती हैं, तो अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में दें।

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में अवश्य बताए और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरों को भी इसका फायदा मिल सके.

Loading...

Leave a Reply