एक ऐसी जगह जहाँ भगवान श्री कृष्ण आज भी रोजाना आते है

दोस्तों भारत में कई मान्यताएं और परंपराएं हैं जिसके कारण यहां पर कई प्रकार के मंदिर आदि पाए जाते है एक ऐसी मान्यता एवं उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में मौजूद निधिवन के बारे में है। दोस्तों जब भगवान श्री कृष्ण वंदावन छोड़कर मथुरा जा रहे थे तो राधा ने उनकी याद में दिन रात आंसू बहा कर इसी निधिवन में अपने प्राण त्याग दिए थे। क्योंकि राधा कृष्ण से प्रेम करती थी और वह कृष्ण के बिना नहीं रह पा रही थी।

तब भगवान श्रीकृष्ण राधा से रोज मिलने के लिए अपने अदृश्य रूप में इस वन में आया करते थे। यहां के लोगों का मानना है कि भगवान श्रीकृष्ण आज भी इस मंदिर में आते हैं और यहां पर मौजूद गोपियों के संग रास रचाते हैं। निधिवन में कई पेड़ ऐसे मौजूद हैं जो बिना पानी के जीवित रहते हैं।

Loading...

यहां के लोगों का मानना है कि यह पेड़ रात को गोपियों का रुप ले लेते हैं और भगवान के संग रास रचाते है। इस वन में भगवान की चमत्कारी शक्तियों को जानने के लिए दुनिया भर से लोग यहां आते हैं। इस वन में भगवान श्री कृष्ण का मंदिर भी है।

इस वन में कई वैज्ञानिकों ने रिसर्च किया लेकिन उनको आज तक आज इस वन की सच्चाई का पता नहीं चला पाया है। निधिवन को रात के समय खाली करा दिया जाता है क्योंकि रात में इस मंदिर में दिव्य शक्तियां पाई जाती हैं जो व्यक्ति के लिए हानिकारक मानी जाती हैं।

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में अवश्य बताए और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.