क्या होती है थायराइड की बीमारी, यह कैसे होती है, सब जाने

आज हम आपको थायराइड की बीमारी के बारे में बताने जा रहे है. तो चलिए जानते है.

थायराइड क्या होता है

Loading...

थाइराइड एक ग्लैड होता है जो हमारे गले के पास मौजूद होता है. ग्लैड का काम हमारे शरीर मे उचित मात्रा में ऊर्जा का संचार करना होता है. जब थाइराइड ग्लैड काम नही करता है. तो सही मात्रा में थाइराइड जूस नही बनता है. जिसे थाइराइड की बीमारी कहते है.

थायराइड के 2 प्रकार के होते हैं

1) हाइपो थायराइड – इसमें थाइराइड ग्लैड अपनी निश्चित मात्रा से अधिक थाइराइड जूस बनता है. जिसके कारण चर्बी जमा होने लगती है. और श्री सुस्त होने के साथ ऊर्जा की कमी होने लगती है. वजन तेजी से बढ़ना आंरभ हो जाता है.

2) हाइपर थायराइड -इस मे थाइराइड ग्लैड जितना थाइराइड जूस बनना चाहिए उसे भी अधिक मात्रा में जूस बनाने लगता है. जिसके कारण हमारे शरीर मे ज्यादा से ज्यादा ऊर्जा बनना आंरभ हो जाती है. जिसे दिल जरूरत से ज्यादा धड़कने लगता है. और अधिक पसीना आने लगता है और वजन तेजी से घटना आंरभ हो जाता है.

थायराइड क्यों होता है. और इसे कैसे रोका जा सकता है.

थायराइड होने के 2 विशेष कारण होते हैं:

1) पहला कारण – थाइराइड की बीमारी वंशानुगत भी होती है. अगर आपको यह बीमारी होती है. तो बच्चे को भी यह बीमारी हो सकती है. इस लिए सही समय पर आपको इसका इलाज अवश्य कर लेना चाहिए.

2) दूसरा कारण – अगर आप सुबह नाश्ता नही करते है. और अधिक समय तक भूखे रहते है तो यह बीमारी का खतरा 25 प्रतिशत तक बढ़ सकता है. यदि आप चाहते हैं कि आपको थायराइड की बीमारी ना हो तो सुबह में नाश्ता करना न भूलें.

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे अपनी राय कमेंट में अवश्य बताए और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.