घर में भूलकर भी इस दिशा में ना रखे माँ लक्ष्मी की तस्वीर, वरना नहीं टिकेगा पैसा

आप सभी अच्छे से जानते है कि माँ लक्ष्मी को धन की देवी है. और अगर माँ लक्ष्मी प्रसन्न हो जाए तो धन की कोई भी कमी नहीं रहती है. लेकिन माँ लक्ष्मी की तस्वीर को भी घर में सही जगह लगानी चाहिए. आज हम आपको इस खबर में माँ लक्ष्मी की तस्वीर को घर की किस दिशा में नहीं लगानी चाहिए यह बता रहे है.

हम सभी के घरों में माता लक्ष्मी की तस्वीर एवं मूर्ति होती है। हम उनकी पूजा-अर्चना भी करते हैं। विधि विधान से पूजा करने के बाद भी हम में से कितने लोग ऐसे हैं जिन्हें मां लक्ष्मी की कृपा नहीं मिल पाती। इसका कारण उसके नियमों में कोई भूल या गलत दिशा में रखी हुई माता लक्ष्मी की मूर्ति हो सकती है।

Loading...
  • माता लक्ष्मी की मूर्ति सही दिशा में रखी जाए तो पूजा का दुगना लाभ मिलता है। वहीं अगर गलत दिशा में रखी जाए तो अनर्थ हो जाता है। शास्त्रों के अनुसार मां लक्ष्मी की प्रतिमा दक्षिण दिशा में कभी नहीं रखनी चाहिए, इससे धन हानि होती है।
  • हमारे धर्म के अनुसार लक्ष्मी मां की मूर्ति या तस्वीर की अवस्था बैठी हुई होनी चाहिए। कभी भी खड़ी अवस्था में मूर्ति या तस्वीर ना हो। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि माता लक्ष्मी का मन चंचल होता है, और खड़े रूप में उनकी स्थापना करने से लक्ष्मी जल्द ही घर से चली जाती हैं।
  • घर में मां लक्ष्मी की एक से ज्यादा तस्वीर या मूर्ति ना रखें, क्योंकि इससे निर्धनता आ सकती है। शास्त्रों के मुताबिक पूजा के स्थान पर लक्ष्मी माता की दो मूर्तियां रखना अशुभ है।
  • लक्ष्मी माता की मूर्ति कभी भी अकेले ना रखें। क्योंकि वह भगवान विष्णु की पत्नी है, इसलिए उनके साथ विष्णु की भी स्थापना करें। इससे घर में समृद्धि और सुख शांति रहती है।
  • वैसे तो माता लक्ष्मी की पूजा गणेश जी के साथ करी जाती है। लेकिन दिवाली के अलावा अन्य किसी भी दिन माता लक्ष्मी की पूजा गणेश जी के साथ नहीं की जाती, क्योंकि गणेश मां लक्ष्मी के भाई हैं। जबकि विष्णु लक्ष्मी के पति हैं, इसलिए उनका पूजन सदैव विष्णु जी के साथ ही करना चाहिए।
  • मूर्ति यां तस्वीर में माता लक्ष्मी का वाहन उल्लू कभी भी ना हो। ऐसा माना जाता है कि माता लक्ष्मी और उल्लू का साथ में होना निर्धनता को बढ़ाता है।
  • कई घरों में लक्ष्मी माता की सेरेमिक की मूर्ति रखते हैं। शास्त्रों के अनुसार कांसा, पीतल या मिट्टी से बनी मूर्ति को रखा जाता है। इसके अलावा अन्य किसी चीज की मूर्ति को अशुद्ध माना गया है, इससे मूर्ति दोष होता है।
  • कई लोग लक्ष्मी की मूर्ति को दीवार या सिहासन पर सटा कर रखते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार यह एक तरह का दोष होता है।

आपको हमारी आज की यह खबर कैसी लगी हमे कमेंट में इसके बारे में अवश्य बताए. और इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दुसरो को भी इसका फायदा मिल सके.