छोटे बच्चों में आते है यह 5 लक्षण, गंभीर बीमारी होने से पहले, कभी ना करे नजरअंदाज

आमतौर पर देखा जाता है कि हम सब मानते है की छोटे बच्चों में तो खांसी और जुकाम जैसी ही समस्या रहती है और इसके अलावा और ज्यादा समस्या नहीं होती है तब इसे में आप गलत हो सकते हो. क्योंकि ऐसे मामलों में हम ज्यादात्तर घरेलु नुस्खों का सहारा लेते है या फिर पास के ही किसी मेडिकल स्टोर से मेडिसिन ले आते है. लेकिन बहुत सी बार ये छोटी – छोटी समस्या भी किसी बड़ी बीमारी का संकेत होती है. आज हम आपको इस खबर के माध्यम से इसी के बारे में बता रहे है जिससे आजकल के बच्चे झेल रहे है. आज हम आपको बच्चों में दिखने वाले ऐसे कुछ लक्षण बता रहे है, अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत डॉक्टर को चेक करवाए.

Loading...

लगातार तेज बुखार आये

अगर बच्चे को बार – बार तेज बुखार आता है तब ऐसे में किसी भी घरेलु नुस्खो में ना पड़े और जल्दी ही किसी ना किसी डॉक्टर को चेक करवाना चाहिए. वैसे बच्चे कमजोर होते है और उनमे इम्युनिटी भी कमजोर होती है इसीलिए मौसम में हल्का सा बदलाव होने के साथ ही में बच्चे बीमार हो जाते है, लेकिन ऐसे 3 लक्षण आते है जिनके दिखने के साथ ही में डॉक्टर को चेक करवाना चाहिए.

  1. अगर बच्चा 3 महीने से छोटा है और बच्चे को 38 डिग्री सेंटीग्रेड से ज्यादा बुखार आ रहा है तब ऐसे में डॉक्टर को चेक करवाना चाहिए.
  2. अगर बच्चा 3 – 6 महीने का है और उसे 39 डिग्री सेंटीग्रेड से ज्यादा बुखार आये तो डॉक्टर को चेक जरुर करवाना चाहिए.
  3. अगर बुखार 3 दिन से ज्यादा है और इसके साथ ही में और भी दुसरे लक्षण दिखाई दे रहे है तब ऐसे में डॉक्टर को जल्दी ही दिखाना चाहिए.

अगर बच्चे को साँस लेने में समस्या हो

अगर बच्चे को साँस लेने में समस्या हो या फिर अगर बच्चा ज्यादा तेजी से साँस ले रहा है तब ऐसे में जल्दी ही डॉक्टर को चेक करवाना चाहिए, क्योंकि कई बार तेजी से साँस लेना किसी बीमारी का संकेत हो सकता है.

लगातार उल्टी होना

अगर बच्चे को लगातार उल्टी होती है तो यह किसी गंभीर समस्या की तरफ इसका इशारा हो सकता है और इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. आमतौर पर तो बच्चों को उल्टी हो ही जाती है लेकिन हमेशा और लगातार अगर होती है तब ऐसे में यह खतरनाक हो सकती है. और ऐसे में डॉक्टर को जल्दी ही दिखाना चाहिए.

पेशाब का कम आना

अगर आपके बच्चे को बहुत देर से पेशाब नही आता है और आता भी है तो बहुत ही कम आता है तब ऐसे में बच्चा डिहाइड्रेशन का शिकार हो सकता है. यह कोई बीमारी तो नहीं है लेकिन बहुत ही बार यह भी जानलेवा साबित हो सकता है.

त्वचा पर चकते बन जाना

बच्चों में चकते बनना एक सामान्य समस्या समझी जाती है यह समस्या बहुत सी बार इन्फेक्शन की वजह से भी हो जाती है. लेकिन बहुत सी बार छोटे बच्चों में चकते किसी गंभीर बीमारी के कारण भी हो सकते है. अगर आपको चकते दिखाई दे और दबाने से भी चकते नही जा रहे है तब ऐसे में यह मेडिकल इमरजेंसी भी हो सकती है.