जमींकंद खाने के इन अनोखे फायदों को जानकर आप भी रह जाओगे हैरान

जिमीकंद भोज्य पदार्थों के संचन हेतु भूमिगत तना का रूपांतर है जिसे घनकंद कहते हैं। यह परिवर्तित तना बहुत अधिक जैसा-तैसा फूला रहता है एवं इसकी सतह पर पर्वसंधियाँ रहती हैं जिनपर शल्क-पत्र लगे रहते हैं। सतह पर जहाँ-तहाँ अपस्थानिक जड़ें लगी रहती हैं। अगले सिरे पर अग्रकलिका तथा शल्कपत्रों के अक्ष पर छोटी-छोटी कलिकाएँ होती हैं। भारत के विभिन्न राज्यों में जिमीकंद के भिन्न-भिन्न नाम ओल या सूरन हैं। सूरन पोषक तत्वों से भरपूर होता है। सूरन में मुख्य रूप से कैलोरी 118, फैट 1 प्रतिशत, कार्ब्स 94 प्रतिशत, प्रोटीन 5 प्रतिशत, पोटेशियम 816 मिग्रा पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके अलाबा यह कई विटामिनों का भी बहुत अच्चा सोर्स है। आज मैं आपको जिमीकंद के 6 चमत्कारिक फायदे बताने जा रहा हूँ। आइये जानते हैं उन फायदों के बारे में।

1.बवासीर में रामबाण औषधि

Loading...

सूरन के टुकड़ों को पहले उबाल लें और फिर सुखाकर उनका चूर्ण बना लें।यह चूर्ण 320 ग्राम, चित्रक 160 ग्राम, सोंठ 40 ग्राम, काली मिर्च 20 ग्राम एवं गुड एक किलाे।इन सबको मिलाकर देशी बेर जैसी छोटी-छोटी गोलियां बना लें। इसे ‘सूरन वटक’ कहते हैं। प्रतिदिन सुबह-शाम तीन- गोलियां खाने से बवासीर में खूब लाभ होता हैं |

सूरन के टुकड़ों को भाप में पका लें और तिल के तेल में सब्जी बनाकर खाएं एवं ऊपर से छाछ पिएं। इससे सभी प्रकार की बवासीर में लाभ होता है। यह प्रयोग तीस दिन तक करें। खूनी बवासीर में सूरन की सब्जी के साथ इमली की पत्तियां एवं चावल खाने से लाभ होता हैं।

2. त्वचा के लिए लाभदाय

सूरन में पर्याप्त मात्रा में विटामिन C होता है इसलिए यह स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। विटामिन C त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए उपयोगी होता है इसलिए जिमीकंद का सेवन करने से त्वचा खूबसूरत बनती है।

3.जिमीकंद विटामिन B6 का अच्छा स्रोत होता है

aइसमें विटामिन B6 होता है। विटामिन B6 की कमी के कारण ब्लड वैसल्स क्षतिग्रस्त हो जाती है। साथ ही इसकी कमी से दिल की बीमारी होने का खतरा होता है। जिमीकंद खाने से इस महत्वपूर्ण विटामिन की कमी नहीं होती और शरीर स्वस्थ रहता है।

4. एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपू

सूरन में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं साथ ही इसमें एंटी-इंफ्लेमेंट्री गुण भी होते हैं। सूरन में विटामिन B, विटामिन C होते हैं इसलिए यह एंटी-ऑक्सीडेंट्स का अच्छा स्रोत होता है। बीमारियों से रक्षा करने के लिए सूरन का सेवन फायदेमंद होता है।

5.तेजी से खून बढ़ाने के लिए

इसमें पर्याप्त मात्रा में कॉपर होता है जो कि स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। यह खून में लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए उपयोगी होता है और शरीर में खून की कमी नहीं होने देता। खून की कमी से बचने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सूरन का सेवन फायदेमंद होता है।

6.झुर्रियां को ख़त्म करे

आपको बता दें कि जिमीकंद में एंटी-एजिंग गुण होते हैं। यह त्वचा के लिए लाभकारी होता है। इसमें बीटा-कैरोटीन, विटामिन c, विटामिन B6 आदि एंटी-ऑक्सीडेंट्स पर्याप्त मात्रा में होते है जो कि त्वचा को झुर्रियों से बचाने में मदद करता है। इसलिए सूरन खाना फायदेमंद होता है।