डांसर सपना चौधरी को बोली ऐसी बात तो पति भीड लेकर पहुंचा आर-पार करने, फिर…

हरियाणवी गायिका सपना चौधरी के पति हरियाणवी कलाकार वीर साहू के खिलाफ रोहतक के महम थाना में धारा 144 का उल्लंघन करने, बिना अनुमति भीड़ जुटाने व आपदा प्रबंधन नियमों की अवहेलना करने के मामले में केस दर्ज हुआ है। थाना महम में सुरक्षा एजेंट के पद पर कार्यरत कर्मचारी ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि सोमवार को हिसार जिले के गांव मदनहेड़ी निवासी वीर साहू अपने साथियों के साथ लगभग 15 गाड़ियों में महम चौबीसी चबूतरे पर जाने के लिए निकला था।

यह था मामला: सपना चौधरी के पति वीर साहू को किसी ने फेसबुक पर ऑनलाइन आकर निजी जीवन से संबंधित अशोभनीय टिप्पणी कर दी। इससे विवाद खड़ा हो गया। उसके बाद बात बढ़ती चली गई व दोनों पक्षों द्वारा महम चौबीसी के चबूतरे को केंद्र मानकर वहां आने पर देख लेने की धमकी दी थी। इसके बाद बात बढ़ती चली गई व एक दूसरे ने महम के एतिहासिक चबूतरे पर आकर देख लेने की धमकी दी गई। जिसके लिए 12 अक्तूबर की दोपहर 12 बजे का समय निर्धारित किया गया।

सोशल मीडिया पर ही एक दूसरे की चुनौती स्वीकार करने के बाद दोनों पक्षों की ओर से भारी संख्या में युवकों को लाने की खबर सामने आई। पुलिस को खबर मिलते ही आनन-फानन में थाना प्रभारी नवीन जाखड़ के नेतृत्व में चबूतरे पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। चबूतरे के नजदीक फटकने वाले हर व्यक्ति से पूछताछ की जाने लगी व वहां पर आकर इकट्ठा होने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

थोड़ी ही देर में लगभग 15 कारों मे सवार होकर वीर साहू पक्ष के युवक आए लेकिन वे पुलिस की मौजूदगी को भांपते हुए निकल गए। उसके बाद सैमाण चुंगी फिर फरमाणा व महम नेशनल हाईवे के बाईपास पर कई जगह युवकों के एकत्रित होने की खबरें वायरल हुई। लेकिन पुलिस की मुस्तैदी के चलते अप्रिय घटना होने से बच गई।

चबूतरे की मर्यादा का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई के लिए सौंपा था ज्ञापन
चौबीसी के चबूतरे पर मंगलवार को पंचायत का आयोजन किया गया था। इसकी अध्यक्षता चौबीसी सर्वखाप पंचायत प्रधान धज्जा राम गोयत ने की। पंचायत में हरियाणवी गायिका एवं कलाकार सपना चौधरी के पति वीर साहू व एक अन्य युवक के बीच हुए विवाद में अपने समर्थकों के साथ चौबीसी के चबूतरे पर चुनौती देने के मामले की कड़ी निंदा की। वहीं नायब तहसीलदार राजकुमार शर्मा को ज्ञापन सौंपकर दोनों पक्षों के खिलाफ उचित कानून कार्रवाई करने की मांग की थी।

Leave a Reply