बडी खबरः 1 नवंबर से देश में बदलने जा रहा ये नियम, कर लें तैयारी, वरना…

LPG के ग्राहकों के लिए यह एक जरूरी सूचना है। आने वाले 1 नवंबर से LPG Cylinder का नियम बदलने जा रहा है। LPG Cylinder के होम डिलीवरी की नई व्‍यवस्‍था में अब यह होगा कि गैस के लिए अब ओटीपी OTP अनिवार्य कर दिया जाएगा। शुरुआत में यह योजना देश के उन 100 शहरों में लागू होगी जो स्‍मार्ट सिटी की श्रेणी में आते हैं। इसके पीछे इंडियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड IOCL का ध्‍येय यह है कि गैल का सिलेंडर सही ग्राहकों तक पहुंच सके। यानी अब गैस सिलेंडर की बुकिंग के बाद जो ओटीपी प्राप्‍त होगा, वही आपको डिलीवरी ब्‍वॉय को बताना होगा। यदि आप यह नहीं बता पाते हैं तो हो सकता है आपको सिलेंडर ना मिल पाए। जयपुर और तमिलनाडु के कोयंबटूर में इस व्यवस्था को पिछले कुछ समय पहले पायलट आधार पर लागू किया गया था। यह योजना वहां पर प्रायोगिक स्तर पर सफल रही, इसलिए अब 1 नवंबर, 2020 से इस योजना का विस्तार देश के 100 स्मार्ट शहरों में किया जा रहा है। इन शहरों से जो फीडबैक मिलेगा उसके ही आधार पर व्यवस्था का विस्तार देशभर में किया जाएगा।

ऐसी होगी नई व्‍यवस्‍था

पहली तारीख से बदलने वाली नई व्यवस्था के तहत LPG Cylinder एलपीजी सिलेंडर बुक करने के बाद ग्राहकों को एक कोड प्राप्त होगा। LPG Cylinder एलपीजी सिलेंडर की डिलिवरी के समय ग्राहकों को यह कोड डिलिवरी करने वाले हॉकर को दिखाना होगा। इस पहल का मकसद अभी यह सुनिश्चित करना है कि गैस की डिलिवरी किसी गलत व्यक्ति को तो नहीं हो गई। दूसरा पहलू यह है कि इस व्यवस्था से ऐसे लोगों को कुछ परेशानी हो सकती है, जिन्होंने पेट्रोलियम कंपनी के साथ अपना KYC, मोबाइल नंबर अपडेट अभी तक नहीं कराया है।

ऐसे करेगा यह सिस्‍टम काम

इसके तहत ग्राहक द्वारा LPG Cylinder बुक करने के बाद एजेंसी संचालक द्वारा उपभोक्ता की रसीद प्रिंट करते ही एक OTP नंबर उपभोक्ता के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर चला जाएगा। जब सिलेंडर की डिलेवरी के लिए डिलेवरी बॉय आएगा तो उसे अपने फोन पर कंपनी के एप्लीकेशन में यह ओटीपी भरना होगा। इसके बाद ही गैस की डिलीवरी की जाएगी। गैस कंपनियों का मानना है कि यह नियम गैस की कालाबाजारी पर रोक लगाएगा। ऐसे में जिन उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर गैस कनेक्शन में अपडेट नहीं हैं, उन्हें नंबर अपडेट कराना होगा। कहा यह भी जा रहा है कि अगर ओटीपी ना हो तो ग्राहक अपना आधार कार्ड दिखाकर भी डिलेवरी ले सकते हैं।

लगेगी कालाबाजारी पर रोक

पेट्रोलियम मंत्रालय ने गैस बुकिंग से लेकर पेमेंट तक सभी काम डिजीटल करने के निर्देश जारी किए हैं। ऐसे में इसे आम लोगों के लिए लागू करने पर गैस सिलेंडर की कालाबाजारी पर भी रोक लगेगी। साथ ही लोगों को सही डिलेवरी भी मिल सकेगी। हालांकि, एजेंसी संचालकों को कहना है कि इससे उन लोगों को सिलेंडर लेने में परेशानी आएगी जिनका नंबर रजिस्टर्ड नहीं है।

Leave a Reply