बड़ा फ़ैसला : फ्लाइट में पैसेंजरों को फिर से मिलेगा खाना, सरकार ने दी इजाजत

हवाई यात्रियों को फ्लाइट में फिर से खाना मिलने लगेगा. कोरोना की महामारी के चलते सरकार ने इस पर रोक लगा दी थी. इनमें अब ढील दी गई है. इसके लिए विमानन मंत्रालय ने स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) में बदलाव किया है. इन नियमों को गुरुवार को जारी किया गया है.

घरेलू के साथ एयर इंडिया की ओर से चलाई जाने वाली इंटरनेशनल फ्लाइट और प्राइवेट व चार्टर कंपनियों के लिए नियमों को आसान बनाया गया है. घरेलू एयरलाइंस कंपनियां अब प्री-पैक्‍ड स्‍नैक्‍स, मील्‍स और गरम पेय पदार्थों की सुविधा दे सकती हैं. इसका मतलब है कि बजट एयरलाइंस अब दोबारा मील सर्विस शुरू कर सकती है. इन आइटमों की बिक्री फिर से की जा सकती है. अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए एयरलाइन अब सीमित पेय विकल्पों (शराब सहित) के साथ गरम भोजन परोस सकते हैं.

फ्लाइट में मनोरंजन की सुविधाओं को भी बहाल कर दिया गया है. शर्त यह रखी गई है कि पैसेंजरों की बोर्ड‍िंग से पहले बैक-ऑफ-सीट इनफ्लाइट एंटरटेनमेंट (आईएफई) स्‍क्रीन को कीटाणुहित किया जाएगा. पैंसेजरों को डिस्‍पोजेबल या डिसइनफेक्‍टेंट हेडफोन दिए जा सकते हैं.

एयरलाइंस को डिस्पोजेबल प्लेट, कटलरी और सेट-अप प्लेट का इस्तेमाल करने के लिए कहा गया है. इन्‍हें दोबारा उपयोग में नहीं लाना है. डिस्पोजेबल ग्लास, बोतल, कैन और कंटेनर में ही चाय, कॉफी और अन्य पेय पदार्थ परोसे जाएंगे. बदले नियमों में कहा गया है कि हर एक मील और पेय सेवा के लिए क्रू को ग्‍लव्‍ज का एक नया सेट पहनना होगा.

इसके पहले चाय/कॉफी सहित अन्‍य गरम पेय पदार्थों को परोसने पर पाबंदी लगाई गई थी. एयरलाइंस को केवल पैक्‍ड फूट आइटम और ठंडे नॉन-एल्‍कोहलिक बेवरेज और पानी की बोतलें सर्व करने की इजाजत थी. ये बंदिशें कोरोना की महामारी के चलते लगाई गई थीं.

Leave a Reply