चाणक्‍य नीति: कम्पटीशन एग्जाम देने वाले छात्र जरूर रखें इन बातों का ध्यान

 चाणक्य नीतियां वर्तमान समय में भी हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है. चाणक्य नीति सभ्य समाज का मार्गदर्शक करती है. साथ ही एक महान इंसान बनने के लिए प्रेरित करती है. चाणक्य नीतियां व्यवहारिक हैं और जीवन में हर मोड़ पर मददगार हैं. आचार्य चाणक्य एक महान राजनीतिज्ञ, अर्थशास्त्री थे. चाणक्य ने अपनी नीतियों से चंद्रगुप्त मौर्य को मगध का सम्राट बना दिया था. तो चलिए जानते हैं उनकी कुछ नीतियों के बारे में.

chanakya-niti

चाणक्य नीति के अनुसार व्यक्ति को अपनी सबसे बड़ी योजनाओं को हमेशा गुप्त रखनी चाहिए. बहुत ध्यान आकर्षित किए बिना अपना काम जारी रखना चाहिए.

चाणक्य नीति के मुताबिक अगर देश की जनता कोई गलत कार्य करती है तो उसका बुरा फल सरकार को या फिर राजा को मिलता है.

चाणक्य नीति के अनुसार एक बार जब आप कोई कार्य शुरु करते हैं, तो असफलता से नहीं घबराना चाहिए और न ही उस कार्य को छोड़ना चाहिए. ईमानदारी से कार्य करने वाले लोगों की विजय होती है.

कम्पटीशन एग्जाम देने वाले स्टूडेंट इस बात का ध्यान जरूर रखें कि दूसरे क्या गलतियां कर रहे हैं जिस वजह से उन्हें सफलता नहीं मिल पा रही है. स्टूडेंट्स को दूसरों की गलतियों से सीख लेकर आगे बढ़ना चाहिए.

चाणक्य नीति के अनुसार बुरे लोगों की ना मित्रता अच्छी होती है और न ही ऐसे लोगों की दुश्मनी अच्छी है. ऐसे इंसान केवल अपना ही हित समझते हैं. वह उसी को देखकर सही और गलत करने का निश्चय करते हैं.

अगर कोई ज्ञानी इंसान गरीब भी है और वहीं कोई मूर्ख व्यक्ति अमीर है. लेकिन हमें ज्ञानी इंसान की ही बात का अनुसरण करना चाहिए और बात माननी चाहिए.

Leave a Reply