Chanakya Niti: ऐसे व्यक्ति का कभी भरोसा नहीं करना चाहिए

Chanakya Niti Hindi: आचार्य चाणक्य ने अपनी चाणक्य नीति में बहुत प्रभावी ढंग से बताया है कि किस व्यक्ति पर विश्वास करना है और किस पर नहीं। चाणक्य के अनुसार विश्वासघात जहर के समान है। जब किसी व्यक्ति का भरोसा टूट जाता है, तो बहुत दर्द होता है। यह दर्द इतना गहरा होता है कि कभी-कभी समय भी इस घाव को ठीक नहीं करता है।

chanakya-niti

Chanakya Niti Hindi: चाणक्य का मानना ​​है कि संबंध बनाते समय बहुत सावधानी बरतनी चाहिए। भौतिकवादी युग में जब स्वार्थ हर चीज के पीछे छिपा होता है। ऐसी स्थिति में, यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि यदि आप कोई संबंध बनाते हैं, तो आपको पहले कई बार निश्चित रूप से सोचना चाहिए। हर बार जल्दबाजी में लिया गया निर्णय सफल नहीं होता। इसलिए संबंध तय करते समय और दोस्त बनाने से पहले हर पहलू पर मंथन किया जाना चाहिए। अगर आप रिश्ते बनाते और दोस्ती करते हुए ऐसा नहीं करते हैं, तो आपको भविष्य में नुकसान उठाना पड़ सकता है। अगर विश्वास से बचना है, तो चाणक्य की इन बातों को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए-

Chanakya Niti Hindi: सामने वाले व्यक्ति के व्यक्तित्व को परखने के बाद दोस्ती हमेशा करनी चाहिए। कभी भी दुष्ट प्रवृत्ति के व्यक्ति से मित्रता न करें। दुष्ट व्यक्ति चाहे कितनी भी मीठी बात करे, उसकी बातें कभी नहीं आनी चाहिए। क्योंकि जिस तरह एक शेर हिंसा से बाज नहीं आता, उसी तरह एक दुष्ट व्यक्ति कभी भी अपनी आदत नहीं छोड़ सकता।

व्यक्ति को उन लोगों से दूर रहना चाहिए जो केवल लाभ लेने के लिए संपर्क करते हैं। ऐसे लोग हमेशा धोखा देते हैं। क्योंकि ऐसे लोगों का एकमात्र लक्ष्य हासिल करना है, जब लाभ बंद हो जाते हैं, तो ये लोग छोड़ने में सबसे आगे हैं।

Leave a Reply