योगी सरकार का बड़ा फैसलाः यूपी बोर्ड के पाठ्यक्रम में की 30 प्रतिशत की कटौती, जानें क्या होगा स्टडी का मॉडल

उत्तर प्रदेश सरकार ने गुरुवार को कोरोनोवायरस महामारी के मद्देनजर अपने स्कूलों में कक्षा 10 और 12 के पाठ्यक्रम को कम करने का फैसला किया।

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने यहां संवाददाताओं से कहा, “सरकार ने कोरोनॉयरस महामारी के कारण राज्य माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षाओं के पाठ्यक्रम को 30 प्रतिशत तक कम करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।”

यूपी बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन कक्षा 10 और 12 के लिए परीक्षा आयोजित करता है।

डिप्टी सीएम ने कहा कि शेष 70 प्रतिशत पाठ्यक्रम को तीन भागों में विभाजित किया जाएगा और कक्षाएं ऑनलाइन या अन्य माध्यमों से संचालित की जाएंगी।

शर्मा ने कहा, “पहले भाग को शिक्षकों के अनुसार या दूरदर्शन के माध्यम से ऑनलाइन पढ़ाया जाएगा। पाठ्यक्रम का दूसरा भाग स्वयं अध्ययन होगा और तीसरा छात्रों द्वारा पूरा किया जाने वाला प्रोजेक्ट वर्क होगा।”

उन्होंने कहा कि मूल्यांकन, निगरानी और शिक्षण के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया तैयार की जाएगी।

Leave a Reply