US: लोगों से जानवरों में फैला कोरोना? 10,000 ऊदबिलाऊ मरे, लक्षण इंसानों जैसे

कोविड-19 (Covid-19) से तबाही के बीच अमेरिका के फर फार्म्स में लगभग 10,000 ऊदबिलाऊ (मिंक) मरे हुए पाए गए हैं. इस घटना के बाद एक्सपर्ट्स कोरोना वायरस (Corona virus) के इंसानों से जानवरों (Human to animal transmission) में फैलने का दावा कर रहे हैं. ये ऊदबिलाऊ उटाह और विसकॉन्सिन स्थित फर फार्म्स में मरे हुए मिले हैं.

सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अकेले उटाह में ही तकरीबन 8,000 ऊदबिलाऊ की मौत हुई है. बता दें कि ऊदबिलाऊ को उसके कोमल रोओं के लिए भी जाना जाता है. उटाह के एक पशु चिकित्सक डॉ. डीन टेलर ने सीएनएन के हवाले से कहा, ‘ऊदबिलाऊ में ये वायरस सबसे पहले अगस्त में दिखा था. इससे थोड़े दिन पहले जुलाई में यहां कुछ फार्म वर्कर्स भी बीमार पड़े थे.’

शुरुआती रिसर्च बताती है कि कोरोना वायरस इंसानों से जानवरों में फैला था. रिपोर्ट ये भी कहती है कि एक्सपर्ट्स ने अभी तक किसी ऐसे मामले की पुष्टि नहीं की है, जहां वायरस जानवरों से इंसानों में ट्रांसमिट हुआ है. डॉ. डीन टेलर ने कहा, ‘उटाह में हमने जो कुछ भी देखा, उससे यही समझ आता है कि वायरस इंसानों से जानवरों में ही फैला है. ये एक यूनिडायरेक्शनल पाथ की तरह है.’ उन्होंने बताया कि इस पर फिलहाल टेस्टिंग जारी है.

ये समस्या सिर्फ उटाह तक सीमित नहीं है. विस्कॉन्सिन में अधिकारियों ने बताया कि यहां भी लगभग 2,000 ऊदबिलाऊ कोरोना वायरस की चपेट में हैं. मामले की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय प्रशासन ने फर फार्म को अनिश्चितकाल के लिए क्वारनटीन कर दिया है, जहां मौत के मामले दर्ज किए गए थे. इससे पहले नीदरलैंड, स्पेन और डेनमार्क में भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं.

यूएस डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर की ‘नेशनल वेटरनरी सर्विस लैबोरेटरीज’ ने भी दर्जनों जानवरों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि की थी. सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, इसमें कुत्ता, बिल्ली, शेर और बाघ जैसे जानवरों में कोविड-19 से संक्रमित होने की बात कही थी.

रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया है कि कोरोना संक्रमित ऊदबिलाऊ में इंसानों से मिलते-जुलते लक्षण ही देखने को मिले हैं. जैसे- सांस में तकलीफ और आंखों के चारों तरफ पपड़ी का जमना. एक अधिकारी ने सीएनएन को बताया कि वायरस यहां बड़ी तेजी से फैला और अगले ही दिन ज्यादातर संक्रमित ऊदबिलाऊ की मौत हो गई.

ऊटाह में अब तक कुल नौ फार्म्स पर ऊदबिलाऊ के संक्रमित होने के मामले सामने आए हैं. हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि वायरस फैलने का खतरा अभी भी टला नहीं है. हम अभी भी महामारी की मिडिल स्टेज पर हैं. इस साल जुलाई में ही नीदरलैंड में करीब 10,000 मादा ऊदबिलाऊ और लगभग 50,000 छोटे ऊदबिलाऊ को जानवरों से इंसानों में कोरोना फैलने के डर से मार दिया गया था.

कुछ ऊदबिलाऊ के कोविड-19 पॉजिटिव होने के बाद ऐसा किया गया था. जानवरों में कोरोना वायरस फैलने का पहला मामला अप्रैल में दर्ज हुआ था. जबकि मई में नीदरलैंड सरकार ने दो ऐसे मामले बताए, जहां ऊदबिलाऊ ने इंसानों को संक्रमित किया था. चीन से महामारी फैलने के बाद धरती पर ये इकलौते केस हैं जहां किसी जानवर ने इंसान को संक्रमित किया है.

Leave a Reply